BHOPAL NEWS – अयोध्या भेजे गए सवा लाख रुद्राक्ष, भगवान राम की नगरी की लाई जाएगी माटी और सरयू का जल

Share this

भोपाल (ईएमएस)। अयोध्या में 22 जनवरी 2024 को रामलला अपने भव्य मंदिर में विराजमान होंगें। इस दिन राम मंदिर (Ram Mandir) में प्राण प्रतिष्ठा समारोह होगा। इसी दिन रतलाम से भेजे गए सवा लाख रुद्राक्ष प्रसादी के रूप में बांटे जाएंगे। इसके साथ ही वैदिक जाग्रति ज्ञान-विज्ञान पीठ, ब्रह्म युवा शक्ति सर्वब्राह्मण महासभा ने रानीजी के मंदिर पर खेड़ापति हनुमान जी, भगवान गणेश का पूजन कर रुद्राक्ष रथ का पूजन कर रवाना किया।

अयोध्या में प्रभु श्री राम की प्राण प्रतिष्ठा 22 जनवरी को होना है। जिसे लेकर पूरे देश में श्री राम की भक्ति का आनंद, उत्साह व उल्लास है। इसी बीच मध्य प्रदेश के रतलाम से अयोध्या के लिए चांदी का अखंडदीप भेजने के बाद अब सवा लाख रुद्राक्ष अयोध्या धाम के लिए पहुंचाए गए। रतलाम की धर्ममय नगरी से अयोध्या के लिए भजन कीर्तन और राम धुन के साथ भक्त रुद्राक्ष रथ (वाहन) में लेकर निकले है।

दरअसल, रथ का पूजन श्रृंगेरी मठ के दंडी स्वामी आत्मानंद जी सरस्वती, वैदिक जागृति पीठ के 1 पीठाधीश्वर महर्षि संजयशिवानंद नजी सरस्वती, ब्रह्म युवा शक्ति के संरक्षक पंडित ओमप्रकाश त्रिवेदी, संदीप मौर्य, नरेंद्र जोशी, शांतिलाल, नारायण तिवारी, चेतन शर्मा, अशोक वशिष्ट, संजय मिश्रा, जनक नगल सहित अन्य मौजूद रहे। दाऊजी धाम सेवा समिति के सहयोग से ये रथ अयोध्या धाम में रुद्राक्ष समर्पित कर, वापसी में सरयू नदी का जल व अयोध्या धाम की माटी को लेकर आएगा। इसे ब्रह्म युवा शक्ति के द्वारा 21 जनवरी को निकाली जाने वाली रामजी की शोभायात्रा में दर्शनार्थ निकाला जाएगा। वहीं समिति द्वारा 22 जनवरी को प्रसादी के रूप नदी का जल और मिट्टी बांटी जाएगी।

 

 

india में विश्वकप के दौरान हालात काफी प्रतिकूल थे : आर्थर

Leave a Comment

x