MP के युवाओं को नौकरी देने की “मोदी गारंटी” का क्या हुआ? -जीतू पटवारी, रोजगार को लेकर घेरा 

Share this

मप्र के युवाओं को नौकरी देने की कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी (Congress state president Jitu Patwari) हमेशा अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहते है.और पीसीसी चीफ jeetu patwari ने रोजगार को लेकर Mohan Sarkar  पर निशाना साधा है.और नौकरियों के आंकड़ों पर प्रकाश डालते हुए Mohan Sarkar  ने भाजपा को घेरते हुए कहा की मप्र के युवाओं को नौकरी देने की “मोदी गारंटी” का क्या हुआ? अव्वल तो नौकरियां मिल नहीं रहीं, यदि सरकारी क्षेत्र में संभावना बनती भी है, तो भर्ती घोटाले के कारण निर्णय नहीं हो पाता! युवाओं को झूठे आश्वासन नहीं, तत्काल नौकरी चाहिए!जीतू पटवारी ने अपने सोशल मीडिया x पर पोस्ट कर लिखा की –

 

क्या बोले कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी

 

https://x.com/jitupatwari/status/1749624180994117664?s=20

 

देश में नौकरियों की तस्वीर चिंताजनक है। 4 साल में निजी क्षेत्र में नई नौकरियों में सालाना 3.1% की ही ग्रोथ आई, जबकि GDP ग्रोथ रेट 4.5% के आसपास थी! प्री-कोविड की तुलना में 2,975 कंपनियों में से 49.44% में 8.2 लाख रोजगार घट गए हैं!

• 14 सेक्टर की कंपनियों में नौकरियां सबसे ज्यादा घटी हैं। इसमें मुख्य रूप से शामिल हैं टेलीकॉम, ऑटोमोबाइल व एंसीलरी सेक्टर्स! कोविड के पहले इनमें 7.06 लाख नौकरियां थीं, जो 34.13% घटकर 4.65 लाख ही बची हैं। मतलब सालाना गिरावट 8.35% रही!

• बैंक ऑफ बड़ौदा की रिसर्च रिपोर्ट बताती है कि देश के कॉर्पोरेट सेक्टर में 81.2 लाख कर्मचारी हैं! एक साल में 3.9 लाख ही नई नौकरियां आईं! जबकि रोजगार चाह रही बड़ी आबादी को देखते हुए बेहद कम है।

• यदि पुराने आंकड़ों को देखा जाए तो 2022 में 4.9 लाख को नौकरियां मिली थीं. यानी इस साल रोजगार के अवसर पिछले साल की तुलना में 20% तक कम हुए हैं! लेकिन, भाजपा इस सच को सुनना/समझना ही नहीं चाहती!

 

युवाओं को झूठे आश्वासन नहीं, तत्काल नौकरी चाहिए! – जीतू पटवारी

मुख्यमंत्री मोहन यादव जी, रामचरित मानस की एक चौपाई है. “कर्म प्रधान विश्व रचि राखा, जो जस करहि सो तस फल चाखा”. गोस्वामी तुलसीदास जी कह रहे हैं यह जगत कर्म प्रधान है, जो व्यक्ति जैसा करता है, उसे वैसे ही फल की प्राप्ति होती है! इसलिए, अब कर्म कीजिए, युवाओं को नौकरी दीजिए! आपको शपथ लिए 42 दिन हो गए! मप्र के युवाओं को नौकरी देने की “मोदी गारंटी” का क्या हुआ? अव्वल तो नौकरियां मिल नहीं रहीं, यदि सरकारी क्षेत्र में संभावना बनती भी है, तो भर्ती घोटाले के कारण निर्णय नहीं हो पाता! युवाओं को झूठे आश्वासन नहीं, तत्काल नौकरी चाहिए!

Jitendra (Jitu) Patwari
https://x.com/jitupatwari/status/1749624180994117664?s=20

ड्राइविंग करते वक्त कार में अचानक लग जाए आग तो क्या करना चाहिए,जाने

Leave a Comment