MP News: नर्मदा जन्मोत्सव आयोजन प्रदूषण मुक्त रखा जाए

Share this

MP News: जीवन रेखा माँ नर्मदा का जन्मोत्सव तटों पर बड़े धूमधाम से मनाया जाना स्वाभिवक है, लेकिन इस उत्सव में भटौलीघाट, जिलहरी घाट, गौरीघाट, खारीघाट, तिलवारा, लम्हेटा, भेड़ाघाट, सरस्वतीघाट, न्यू भेड़ाघाट आदि प्रमुख घाटों में गंदगी, कचरा जमा हो जाता है। जगह जगह पर होने वालें भंडारे के दौरान ठोस अपशिष्ट उत्पन्न हो जाता है।

वास्तविकता में गंदगी, कचरे तथा ठोस अपशिष्ट के डिस्पोजल की जिम्मेदारी नगर निगम की है लेकिन उसने इस प्राथमिकता को भूला दिया है। नेशनल ग्रीन ट्रिब्युनल ने नर्मदा जन्मोत्सव तथा महाशिवरात्रि के आयोजनों के संबंध में दिनांक 23फरवरी 2021 को सख्त कार्रवाई के आदेश दिए है, लेकिन पिछले 2 वर्षों में इन आदेशों की अवहेलना की गई है।

ये भी पढ़े :HINDI NEWS: पा‎किस्तान में इस्लामिक स्टेट का आतंकी सरगना हुआ ढेर

अत: नगर निगम एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड अपनी जिम्मेदारी निभाए, यह पत्र नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच ने आयुक्त नगर निगम जबलपुर तथा क्षेत्रीय अधिकारी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को सौंपा है।

नर्मदा में गंदगी आत्मघाती कदम…….

गंगा, यमुना में पानी ग्लेशियर के पिघलने से आता है। नर्मदा में पानी स्त्रोत यह नहीं है। इस नदी के पानी का स्त्रोत पूरी तरह पर्वत, पेड़ों, प्राकृतिक झिरों तथा सिपेज पर निर्भर है। कचरा, गंदगी तथा प्रदूषण से यह स्त्रोत प्रभावित हो रहा है। इसी कारण नर्मदा में जल स्तर लगातार घट रहा है।

ये भी पढ़े :कम कीमतों में लाए अपने घरMaruti Suzuki Swift, शानदार लुक के साथ

Ramesh Kumar
Author: Ramesh Kumar

1 thought on “MP News: नर्मदा जन्मोत्सव आयोजन प्रदूषण मुक्त रखा जाए”

Leave a Comment

x