कांग्रेस से गठबंधन पर अ‎जित नाराज, चाचा शरद पवार को घेरा

Share this

मुंबई । महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री Ajit Pawar अपने चाचा शरद पवार से नाराज है, क्यों‎कि शरद पवार ने कांग्रेस से गठबंधन कर ‎लिया है। बता दें ‎कि उन्होंने Sonia Gandhi  के विदेशी मूल का मुद्दा उठाने के कुछ ही महीनों के भीतर कांग्रेस के साथ गठबंधन करने के अपने चाचा शरद पवार के फैसले पर बृहस्पतिवार को सवाल उठाया। पिछले वर्ष शरद पवार के खिलाफ बगावत और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) को विभाजित करने वाले अजित पवार ने यह भी सवाल उठाया कि भारतीय जनता पार्टी (bjp) के साथ आने से उनकी आलोचना क्यों की जा रही है जबकि उनके चाचा ने दो साल पहले ही शिवसेना के साथ गठबंधन किया था।

अ‎‎जित पवार ने कहा ‎कि वर्ष 1999 में कांग्रेस के भीतर एक विचारधारा उभरी कि एक विदेशी मूल के व्यक्ति को देश का प्रधानमंत्री नहीं होना चाहिए। पवार साहब (शरद पवार), पी ए संगमा और तारिक अनवर ने यह रुख अपनाया था। हम युवा थे और हमने भी इसका समर्थन किया था। वहीं वर्ष 1999 के जून में राकांपा का गठन हुआ तक शरद पवार को कांग्रेस से ‎निकाला था, और 1999 के अक्टूबर में हम राज्य में विलासराव देशमुख की सरकार में शामिल हो गए। अजित पवार ने सवाल उठाया ‎कि छह महीने भी नहीं बीते थे। विदेशी मूल के मुद्दे का क्या हुआ? जब विदेशी मूल की सोनिया गांधी अगर कांग्रेस की अध्यक्ष थीं तो कांग्रेस के साथ जाने का फैसला क्यों ‎लिया गया।

 

ग्वालियर-चंबल में कांग्रेस को बड़ा झटका 228 कांग्रेसी बीजेपी में शामिल, केंद्रीय मंत्री सिंधिया ने दिलाई शपथ

Leave a Comment