Singrauli News: नगर निगम के स्टोर एवं वाहन शाखा में भारी घोटाला,अध्यक्ष महापौर जांच करवाने में पीछे क्यों…? परिषद में हंगामा होने की संभावना

Share this

Singrauli News: नगर निगम (Municipal council) में इन दिनों सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है चंद लोगों के इशारे पर नगर निगम में तथाकथित दलालों के सहारे चलाया जा रहा है दलालों के कहने पर चहेते ठेकेदारों को काम दिया जाता है और स्टोर सहित वाहन शाखा में भारी भ्रष्टाचार (Corruption) को बढ़ावा दिया गया है। (Singrauli News)

नगर निगम में चर्चा बना हुआ है कि स्टोर में सिर्फ चंद लोगों को काम देकर 50-50 का खेल खेला जा रहा है वहीं वाहन शाखा में गाड़ियों की फर्जी मेंटेनेंस फर्जी सामग्री खरीदी एवं डीजल घोटाले की चर्चा चल रही है। इसकी सच्चाई तो जांच करने के बाद ही पता चलेगा लेकिन स्टोर एवं वाहन शाखा की जांच करवाने में महापौर और अध्यक्ष भी पीछे दिख रहे हैं पार्षदों ने दबी जुबान बताया कि अधिकारी दलालों के माध्यम से स्टोर में चंद ठेकेदारों को जैम पोर्टल के माध्यम से सामग्री खरीदी का टेंडर करते हैं। और घटिया सामग्री स्टोर में आती है बहुत सारे सामग्री स्टोर में पहुंचने से पहले ही बिल पास हो जाता है ठीक उसी तरह वाहन शाखा में भी डीजल से लेकर गाड़ी की मेंटेनेंस के नाम पर करोड़ों रुपए का बंदरबाट हो गया अगर इसकी जांच बारीकी कराई जाए तो कई अधिकारियों पर मामला भी दर्ज हो सकता है.

यह भी पढ़े: MP Weather: मौसम ने ली फिर करवट कई जिले में भारी बारिश के साथ ओलावृष्टि

नगर निगम को नए अध्यक्ष और महापौर बने लगभग दो वर्ष हो गए लेकिन अभी तक कोई भी ऐसी जांच पूर्ण नहीं हो सकी जिसमें अधिकारियों के द्वारा किए जा रहे भ्रष्टाचार को रोक लगाया जा सके। लंबे समय से जमे अधिकारियों ने अपने दलाल एवं ठेकेदार पाल रखे हैं सिर्फ उन्हें ही काम देते हैं और उन्हीं के दलाली पर नगर निगम के अधिकारी कार्य करते हैं।

यह भी पढ़े: Dates: खजूर खाने के क्या है फायदे, डायबिटीज पेशेंट भी खा सकते हैं खजूर

Ramesh Kumar
Author: Ramesh Kumar

Leave a Comment

x